अपनी इनकम का कितना प्रतिशत बचाएं और कितना निवेश करें?

आज महंगाई के दौर में लोगों को बचत और निवेश की अहमियत पता चल रही है. हर इंसान पैसा बढ़ाने के लिए इन्वेस्टमेंट और सेविंग्स की प्लानिंग कर रहा है.

बचत और निवेश का सबसे आसान तरीका है अपनी मंथली सैलरी या इनकम का एक छोटा-सा हिस्सा सरकारी स्कीम, बैंकिंग स्कीम, पोस्ट ऑफिस या स्टॉक मार्केट में निवेश

हालांकि अपनी आय का कितना फीसदी बचाएं और निवेश करें, जिससे फ्यूचर सिक्योर रहे. इस सवाल को लेकर ज्यादातर लोग कन्फ्यूजन में ही रहते हैं.

इनकम का कितना फीसदी बचाएं

इस मामले में फाइनेंशियल एडवाइजर का कहना है कि अगर 50-30-20 के नियम को समझ लिया जाए तो कई कन्फ्यूजन दूर हो जाएंगे.

क्या है 50-30-20 का फॉर्मूला ?

फाइनेंशियल एडवाइजर दीप्ति भार्गव समझाती हैं कि आपकी इनकम का 50% हिस्सा तो फैमिली की जरूरतों पर खर्च हो जाता है, जिसका आप कुछ नहीं कर सकते.

इसलिए बचे हुए 50% को ठीक तरह से मैनेज करना होगा. इसमें से 30% आप अपने शौक आदि पर खर्च कर सकते हैं, जबकि बचे हुए 20 फीसदी को हर हाल में सही जगह पर निवेश कर दें.

कैसे कैल्कुलेट करें निवेश की रकम

निवेश की रकम को कैल्कुलेट करना आसान है. इसके लिए आप अपनी टोटल इनकम का 20% निकालें. बाकी 80 फीसदी इनकम से अपनी डेली जरूरतें, शौक, शॉपिंग, मूवी, ट्रेवल आदि में खर्च कर सकते हैं.

कैसे कैल्कुलेट करें निवेश की रकम e 2

निवेश की रकम को कैल्कुलेट करना आसान है. इसके लिए आप अपनी टोटल इनकम का 20% निकालें. बाकी 80 फीसदी इनकम से अपनी डेली जरूरतें, शौक, शॉपिंग, मूवी, ट्रेवल आदि में खर्च कर सकते हैं.

कहां निवेश करें 20%

Fएक्सपर्ट्स की  मानें तो  अपनी इनकम का 20% हिस्सा का निवेश करना या बचाना बेहद आसान है. अगर आपके खर्च कम हैं तो आप ज्यादा पैसा भी बचत निवेश योजनाओं में लगा सकते हैं.

कहां निवेश करें 20%

आजकल सुरक्षित निवेश के लिए पीपीएफ, सुकन्या समृद्धि योजना, म्यूचुअल फंड, एलआईसी पॉलिसीज, एफडी, पोस्ट ऑफिस आदि प्लेटफॉर्म काफी फेमस हो रहे हैं